Friday, August 7, 2009

ऐ लो जी सनम हम आ गये

*****ऐ लो जी सनम हम आ गये *****

करीब छ: महिने से चाहकर भी अपनी ब्लॉगिंग की गाड़ी को धक्का नहीं लगा पा रहा था। कारण कुछ निजी थे॥ सार्वजनिक करने पर सच का सामना जैसी स्थिति हो सकती है । चलिये अब आये हैं तो कुछ लिखना पड़ेगा ही।

इन दिनों मेरे देश में

मन्दी ने अपना असर दिखाया.
महंगाई ने अपना कहर ढाया.
अच्छे अच्छों को नाँच नचाया.
चीनी चढी ऊपर आलू प्याज तक ने रूलाया।

माया ने अपना पुतला लगाया
गरीबों को ठेंगा दिखाया।
कहीं सूखे ने अपना असर दिखाया
वहीं बाढ़ ने कहर ढ़ाया

रेल में बैठ ममता आई
लालू जी की सामत आई.
नये नये सपने लाई
लालू रेल की पोल खुलाई।

देखो कसाब की खुली कलाई
खुद ही अपनी करतूत बताई
मुंबई हमले वालों की भी हुई सुनवाई
साजिश करने वालों को हुई फ़ाँसी की सुनाई.

5 comments:

Udan Tashtari said...

शुक्र ये है कि वो आये तो!!

श्यामल सुमन said...

देश की हालात के कई शब्द-चित्र के साथ अचछा आगमन।

सादर
श्यामल सुमन
09955373288
www.manoramsuman.blogspot.com
shyamalsuman@gmail.com

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

बहुत खूब!

M VERMA said...

बेहतरीन सामयिक रचना
खूबसूरती से अभिव्यक्त

AlbelaKhatri.com said...

waaaaaaaah !